चालाक लोमड़ी और कौवा (Chalak Lomadi aur Kauwa) – Short Story

बहुत पुरानी बात है| एक कौआ भोजन की तलाश में इधर उधर भटक रहा था| परंतु, उसके हाथ कुछ न लगा| वह थका मांदा एक पेड़ पर जा बैठा| अरे वाह! किस्मत हो तो ऐसी – उसे एक प्लेट में रोटी का टुकड़ा दिखाई दिया| वह प्लेट के पास पहुँचा, उसने अपनी चोंच से उसे …

डर के आगे जीत है – लघु कथा

“आदमी को जानवर भी डराता है, और कोई अन्य संकट भी | किसी का गुस्सा भी डराता है और किसी काम का बिगड़जाना भी | और इन सबसे ज्यादा डराता है डर | डर किसी को कितना डरा सकता है यह पता चलेगा इस कथा को पढ़कर जो मूलतः बांगला भाषा में लिखी गयी थी …

Silly Goat – Short Story in Hindi

एक बार कि बात है, एक गाँव में दो मूर्ख बकरियाँ रहती थी | उस गाँव में एक संकरा पुल था, एक दिन दोनों बकरियाँ पुल को पार करना चाहती थीं | एक मूर्ख बकरी पुल के इस तरफ थी, और दूसरी बकरी पुल के दूसरी तरफ थी | उनमे से एक बकरी ने कहा, …